मुस्लिम छात्रों ने कहा- अभाविप से जुड़कर राष्ट्र पुनर्निर्माण में हम भी देंगे योगदान

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् काशी महानगर के कार्यकर्ताओं द्वारा चलाये जा रहे सदस्यता अभियान के क्रम में आज दिनांक 29.09.2021 को समय 10.00 बजे दिन में पड़ाव स्थित मदरसे में शिक्षा ग्रहण करनेवाले सैकड़ों विद्यार्थियों ने अभाविप की सदस्यता ग्रहण की। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रदेश सह मंत्री शुभम कुमार सेठ ने बताया कि यह सदस्यता अभियान दिनांक 15 सितम्बर से प्रारम्भ हुआ है, जो अनवरत् दिनांक 30 सितम्बर तक चलेगा तथा विद्यार्थी परिषद् का नारा है ज्ञान. शील और एकता, आज विद्यार्थी परिषद् न केवल भारत का अपितु पूरे विश्व का सबसे बड़ा छात्र संगठन है। यह संगठन छात्रों से प्रारम्भ हो छात्रों की समस्याओं के निवारण हेतु एक एकत्रित छात्र शक्ति का परिचायक है, विद्यार्थी परिषद के अनुसार छात्र शक्ति ही राष्ट्र शक्ति होती है। विद्यार्थी परिषद् का मूल उद्देश्य राष्ट्र पुनर्निर्माण है। विद्यार्थी परिषद् ने अपने स्थापनाकाल से ही छात्रहित और राष्ट्रहित से जुड़े प्रश्नों को प्रमुखता से उठाया है और देशव्यापी आन्दोलनों का नेतृत्व किया है। विद्यार्थी परिषद् शिक्षा के व्यवसायीकरण के खिलाफ बार-बार आवाज उठाता रहा है। सहमंत्री शुभम कुमार सेठ ने छात्र-छात्राओं व माननीय शिक्षकों से आवाहन किया कि अधिक से अधिक संख्या में विद्यार्थी परिषद् से जुड़ें। तत्पश्चात् मदरसे में रहनेवाले छात्रों ने हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि विद्यार्थी परिषद् की सदस्यता ग्रहण करते हुए कहा कि हम विद्यार्थी परिषद् से जुड़कर राष्ट्र निर्माण में अपना अमूल्य योगदान देंगे। सदस्यता अभियान में मुख्य रूप से अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के प्रदेश सह मंत्री शुभम कुमार सेठ, आकाश सेठ, राकेश विश्वकर्मा, फैजी खान,अकरम अहमद, जाविर आलम, सद्दाम अंसारी, अशफाक अंसारी आदि उपस्थित रहे।

Share this news

You may have missed