रेलवे कॉलोनी के क्वार्टर से आ रही थी तेज दुर्गंध, पुलिस ने दरवाजा खोला तो मिला रेलकर्मी का शव

वाराणसी सिटी रेलवे स्टेशन के पास अलईपुरा स्थित रेलवे कॉलोनी के क्वार्टर से तेज दुर्गंध आने पर पुलिस और आरपीएफ को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा खोला तो अंदर का नजारा देखकर सभी सहम उठे। कमरे में रेलकर्मी का सड़ा-गला शव मिला। पास ही में शराब की खाली बोतल भी मिली। जैसे-तैसे पुलिस ने शव को सील कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। इधर, कई दिनों से बंद मकान में शव मिलने की सूचना से रेलवे कॉलोनी में सनसनी मच गई। मृतक की पहचान आईओडब्लू कंस्ट्रक्शन विभाग में खलासी के पद पर कार्यरत लालजी साहनी (54) के तौर पर हुई। जिस क्वार्टर (टीएल-24 एच) से शव मिला वो उनके नाम पर आवंटित थी। रविवार को क्वार्टर नंबर टीएल-24 एच से आ रही दुर्गंध के चलते शक हुआ। आसपड़ोस के लोगों ने इसकी सूचना आरपीएफ और पुलिस को दी।
क्वार्टर में अकेले रहता था लालजी साहनी
मौके पर पुलिस पहुंची तो दरवाजा अंदर से बंद था। दरवाजे को तोड़ने पर कमरे में लालजी साहनी का शव मिला। इंस्पेक्टर जैतपुरा मथुरा राय ने बताया कि लालजी मूल रूप से गोरखपुर का निवासी था। यहां रेलवे के क्वार्टर में वह परिवार के साथ रहता था। पिछले साल पुत्र की शादी करने परिवार सहित अपने पैतृक गांव गया था। परिवार को वहीं छोड़ कर लालजी वापस आ गया था।

तब से वह क्वार्टर में अकेले रह रहा था। घटना की सूचना मृतक के परिजनों को दे दी गई है। लालजी की संदिग्ध हाल में मौत को लेकर रेलवे कॉलोनी में तरह-तरह की चर्चा है। पुलिस के मुताबिक लालजी के शव के पास से कुर्सी पर पेंट और शराब की खाली बोतल मिली।
पुलिस के मुताबिक, लालजी की मौत प्रथम दृष्टया हालत बिगड़ने के कारण मान कर जांच की जा रही है। वहीं कॉलोनी वालों का कहना है कि लालजी शराब का आदि था। उसके क्वार्टर में अक्सर बाहरी लोगों का आना-जाना लगा रहता था।

Share this news