वाराणसी। विशेष न्यायाधीश (एमपी-एमएलए) कोर्ट में विचाराधीन

अवधेश राय हत्याकांड में गुरुवार को तत्कालीन विवेचक उदयभान सिंह की गवाही विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हुई। इस दौरान अदालत की समय अवधि समाप्त चलने के चलते गवाही पूर्ण नही हो पायी। जिसके बाद अदालत ने शेष बयान व जिरह की कार्रवाई के लिए शुक्रवार की तिथि मुकर्रर की है। इस दौरान अदालत में मामलें के आरोपी मुख्तार अंसारी विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बांदा जेल से पेश हुए। अदालत में गवाही के दौरान बचाव पक्ष के अधिवक्ता श्रीनाथ त्रिपाठी वादी के अधिवक्ता अनुज यादव व अधिवक्ता विकास सिंह एवं एडीजीसी ज्योति शंकर उपाध्याय भी मौजूद रहे।

बता दें कि 3 अगस्त 1991 को लहुराबीर क्षेत्र में स्थित आवास के गेट पर ही अवधेश राय के ऊपर ताबड़तोड़ फायरिंग कर उनकी हत्या कर दी गई थी। अजय राय ने मुख्तार अंसारी,पूर्व विधायक अब्दुल कलाम, भीम सिंह, कमलेश सिंह व राकेश न्यायिक समेत अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। इसी मामलें में पिछली तिथि को इस आशय की रिपोर्ट आने पर गवाह उदयभान सिंह बिमार होने के चलते कोर्ट के समक्ष व्यक्गित रूप से उपस्थित होकर गवाही देनें में सक्षम नहीं है। जिसपर कोर्ट ने उनकी गवाही विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कराने का आदेश दिया था। इसी आदेश के अनुपालन में गुरुवार को मामले के विवेचक रहे उदयभान सिंह की गवाही करायी गयी।

Share this news