आजादी का 75वां अमृत महोत्सव

देश की आजादी में वकीलों का भी रहा है अहम योगदान- विकास सिंह

वाराणसी। विश्वभर में वकालत पेशे को अत्यंत सम्मानजनकपेशे के रुप में जाना जाता है और यहपेशा अत्यंत ही गरिमामयी पेशा होता हैं । देश की स्वतंत्रता संग्राम में भी वकालत पेशे से अधिक योगदान किसी और पेशे का नहीं रहा । उक्त बातें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव व अधिवक्ता विकास सिंह ने कही। उन्होंने कहा कि देश की आजादी की लड़ाई में अगर समग्र रूप से विश्लेषण किया जाए तो वकीलों की भागीदारी से ही देश की स्वतंत्रता का आंदोलन बौद्धिक, अहिंसक समावेश से अपने चर्मोत्कर्ष पर पहुंचा। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के गठन के बाद दादाभाई नौरोजी, सुरेन्द्रनाथ बनर्जी, सरदार बल्लभ भाई पटेल, मदनमोहन मालवीय और मोतीलाल नेहरू जैसे नेताओं ने आजादी की लड़ाई की अलख को आगे बढ़ाया । ये सभी नेता पेशे से वकील थे। उन्होंने कहा कि बंगाल विभाजन के फलस्वरूप कांग्रेस में गरम दल का उदय हुआ, जिसमें बाल गंगाधर तिलक, सी.राजगोपालाचारी, लाला लाजपत राय, सीआर दास जैसे वकीलों ने आंदोलन को नई दिशा दी। भारतीय राजनीति की मुख्यधारा में पेशे से वकील महात्मा गांधी के प्रवेश से राष्ट्रीय आंदोलन को नया नेतृत्व और दिशा मिली। उन्होंने अहिंसा, सत्याग्रह और असहयोग की रणनीति से ब्रिटिश सरकार की जड़ें हिला कर रख दी। जिसमें उनका साथ आजाद भारत के पहले राष्ट्रपति व अधिवक्ता डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने मजबूती से दिया। इसमें जवाहरलाल नेहरू ने भी बखूबी योगदान दिया। वह भी पेशे से वकील थे। स्वतंत्रता संग्राम में प्रमुख भूमिका और संविधान के निर्माण में डॉ. भीमराव अम्बेडकर की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है, वे भी एक प्रख्यात वकील और दलित नेता थे, जो दलितों के सामाजिक उत्थान के लिए काम करते हुए जातिवाद और सामाजिक भेदभाव को भारतीय समाज से उन्मूलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। ऐसे में जब स्वतंत्रता मिली और नए भारता को गढ़ने का समय आया, तब भी वकीलों की महत्ता बनी रही और आज भी अधिवक्ता की गरिमा ज्यो का त्यों बनी हुई है। जिसमे आज भारतीय नागरिकों को मिले अधिकारों और स्वतंत्रता, समानता, न्याय और सत्य के लिए इस संघर्ष में वकीलों और न्यायविदों का योगदान स्वतंत्रता के संग्राम से शुरु होकर संविधान के बनने और आजाद भारत में विधि शासन को बनाए रखने में अधिवक्ता का योगदान अद्वितीय है ।

Share this news