एक करोड़ से अधिक 36 बकायेदारों की करोड़ो की जमीन हुई कुर्क, मचा हड़कम्प

पिंडरा। डीएम के निर्देश पर तहसील पिंडरा के राजस्व विभाग ने बकायेदारों के खिलाफ सघन चले अभियान के तहत एक दिन में बड़ी कार्यवाही करते हुए तहसील पिंडरा के एक करोड़ रुपये से अधिक के 36 बड़े बकायेदारों की करोड़ो रूपये की जमीन कुर्क की और बकाया चुकता न करने पर 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। मंगलवार को दिनभर चले कार्यवाही से तहसील के बकायेदारों में हड़कंप मच गया। इस बाबत एसडीएम पिंडरा राजीव कुमार राय ने बताया कि पिंडरा तहसील में 50 बड़े बकायेदार है। जिनके ऊपर विद्युत, स्टाम्प व सरकारी कोर्ट के बकाया था। बार बार नोटिस व सम्मन जारी करने के बाद बकाया राशि का भुगतान नहीं कर रहे थे। जिसपर जिलाधिकारी के निर्देश पर उन बकायेदारों के यहाँ गठित राजस्व टीम द्वारा उनकी जमीन कुर्क कर विभिन्न मद के एक करोड़ 3 लाख 68 हजार 32 रुपये के 36 बकायेदार के नाम की जमीन एक साथ कुर्क कर प्रशासन द्वारा बोर्ड भी लगा दी गई। 36 बकायेदारों में 5 लाख के अधिक स्टाम्प के बकायेदार रामजी दुबे निवासी कनियर, सुनील सिंह निवासी चिउरापुर है। वही दो लाख से नीचे के बकायेदार बिरंजी देवी निवासी बलुआ,मन्ना देवी निन्दनपुर, उषा देवी नथईपुर,सरोज देवी डासेपुर, राजनाथ खानपट्टी, श्यामा देवी गरखड़ा,नीतू पांडेय कथौली समेत समेत 36 ऐसे बकायेदार थे जिनको काफी समय से स्टाम्प ड्यूटी के चोरी करने के बाद वसूली के लिए आरसी जारी हुई थी । उसके बावजूद बकाया राशि जमा नही कर रहे थे। वही तहसील टीम ने उनके पास जमीन न होने पर उन्हें गिरफ्तार कर तहसील के हवालात में डाल दिया गया। कुर्क की गई जमीन पर प्रशासन ने बोर्ड भी लगा दी। तहसील प्रशासन के इस कार्यवाही से बकायेदारों में हड़कंप मच गया। वही एसडीएम पिंडरा ने बताया कि अभी 50 और बकायेदारों के खिलाफ वसूली की कार्यवाही होगी। वही वसूली टीम में तहसीलदार विकास पांडये, नायब तहसीलदार साक्षी राय समेत राजस्व विभाग के लेखपाल व अमीन के अलावा पुलिस बल के लोग उपस्थित रहे।

Share this news

You may have missed